पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड में बवाल जारी, दो दिन में फिर बदल गया PCB चेयरमैन का नाम!

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन पद का कार्यभार अब सुप्रीम कोर्ट के एक वकील को सौंपा गया है।

पाकिस्तान क्रिकेट:

बोर्ड के अंदर पिछले एक साल से उथल-पुथल मची हुई है। रमीज राजा के पीसीबी चेयरमैन पद से इस्तीफा देने के बाद से इस पद पर कोई टिक नहीं पा रहा है। पहले नजम सेठी को पीसीबी की मैनेजमेंट कमेटी का कार्यभार सौंपा गया। उसके बाद जका अशरफ ने यह पद संभाला। फिर दो दिन पहले तक जका अशरफ के बाद पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के केयरटेकर सीएम मोहसिन नकवी को कार्यभार सौंपने की बात की जा रही थी। नकवी ने खुद इस बात को कंफर्म भी किया था। लेकिन अब दो दिन बाद नाम बदल गया और पीसीबी ने खुद ऐलान करते हुए शाह खावर को पीसीबी के चेयरमैन की पॉवर दे दी हैं।

सुप्रीम कोर्ट के वकील को बनाया

चेयरमैन! पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट के वकील शाह खावर को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन का कार्यभार सौंपा गया है। आपको बता दें कि खावर पीसीबी के इलेक्शन कमिश्नर भी हैं। उन्होंने यह जिम्मेदारी संभालने के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन के लिए होने वाले चुनावों को जल्द से जल्द करवाना अपनी प्राथमिकता बताई है। उन्होंने इस जिम्मेदारी के मिलने पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री अनवार-उल-हक काकर का भी धन्यवाद अदा किया।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपनी ऑफिशियल प्रेस रिलीज में इस फैसले की जानकारी दी।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने अपनी ऑफिशियल प्रेस रिलीज में इस फैसले की जानकारी दी। इसमें बताया गया कि 23 जनवरी 2024 को जारी नोटिफिकेशन के अनुसार Inter-Provincial Coordination (IPC) मिनिस्ट्री और पीसीबी के संविधान के अनुच्छेद 7 (2) के मुताबिक इलेक्शन कमिश्नर को पीसीबी का चेयरमैन बनाया गया है। जबकि दो दिन पहले तक यह साफ माना जा रहा था कि मोहसिन नकवी चेयरमैन बनेंगे। इसको लेकर सोशल मीडिया पर कई पोस्ट वायरल हो रहे थे। वहीं फिर इसकी आलोचना भी हो रही थी। कई जगह भी ट्रोल हो रहा था।

क्या बोले शाह खावर?

इस जिम्मेदारी के मिलने के बाद खावर ने कहा,’मैं पीसीबी के संरक्षक और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री मिस्टर अनवार-उल-हक काकर का मुझपर विश्वास जताने के लिए धन्यवाद अदा करना चाहूंगा। मेरी सबसे पहली जिम्मेदारी होगी कि जल्द से जल्द पीसीबी चेयरमैन के लिए निष्पक्ष चुनावों का आयोजन करवाया जाए।’

Pakistan टीम में फिर आया भूचाल, आपस में ही उलझ पड़े हैं PCB और Players

पाकिस्तान के खिलाड़ी पीसीबी बोर्ड से नाराज चल रहे हैं, ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि कुछ खिलाड़ी बोर्ड के साथ किए कॉन्ट्रैक्ट को भी ठुकरा सकते हैं।

पाकिस्तान की टीम में एक बार फिर से उथल-पुथल मची हुई है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड और पाकिस्तानी खिलाड़ियों के बीच अनबन शुरू हो गई है। पहले तो विदेशी कोच ने अपना पद छोड़ दिया। फिर जका अशरफ ने भी पीसीबी के अध्यक्ष पद की कुर्सी ठुकरा दिया है। अब पाकिस्तान के कई खिलाड़ी बोर्ड से नाराज चल रहे हैं। स्थिति इतनी विकट हो गई है कि कई बड़े खिलाड़ी सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट भी ठुकरा सकते हैं। चलिए आपको बताते हैं खिलाड़ी अपने बोर्ड से क्यों नाराज चल रहे हैं। क्या है इस की विवाद की पूरी जड़।

पीसीबी नहीं दे रहा एनओसी

दरअसल पाकिस्तान जका अशरफ के पद छोड़ने के बाद बोर्ड खिलाड़ियों को विदेशी लीग नहीं खेलने दे रहा है। बोर्ड खिलाड़ियों को विदेशी लीग खेलने के लिए एनओसी मुहैया नहीं करा रहा है। ऐसे में पाकिस्तानी खिलाड़ी बोर्ड से खफा हैं। बता दें कि खिलाड़ी को नेशनल ड्यूटी से फ्री होने के बाद भी एनओसी नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि खिलाड़ी टीम के साथ अपना नेशनल कॉन्ट्रैक्ट को लात मार सकते हैं। पाकिस्तान के खिलाड़ी ना सिर्फ पाकिस्तानी लीग खेलते हैं, बल्कि कुछ विदेशी लीग भी खेला करते हैं।

खिलाड़ियों को नहीं मिला NOC

पीसीबी के एक सूत्र ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि हाल ही में पाकिस्तानी खिलाड़ी जमान खान, फखर जमान और मोहम्मद हारिस को बांग्लादेश प्रीमियर लीग में खेलने की अनुमति नहीं दी गई थी। बोर्ड ने इसके पीछे कारण बताते हुए कहा कि खिलाड़ी पहले ही पाकिस्तान लीग के साथ 2 सुपर लीग खेल चुके थे, इस कारण से उन्हें बांग्लादेश प्रीमियर लीग खेलने की अनुमति नहीं दी गई थी। दूसरी ओर जिस भी खिलाड़ी ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के साथ कॉन्ट्रैक्ट नहीं किया है, उन खिलाड़ियों के लिए लीग खेलने पर कोई बाध्यता नहीं है। ऐसे में हो सकता है कि कुछ खिलाड़ी नेशनल कॉन्ट्रैक्ट को भी ठुकरा दे।

Leave a Comment