hemant soren । झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन लापता क्यू? आईए जानते हैं

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन लापता तलाश रही है (ED) की टीम उनकी बीएमडब्ल्यू कर जप्त कर दी गई है। और एयरपोर्ट में सभी जगह अलर्ट कर दिया गया है।

प्रवर्तन निदेशालय(ED) केटीएम झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की जगह-जगह तलाश कर रही है इससे पहले (ED) की टीम उनके दिल्ली स्थित घर सहित तीन ठिकानों पर छापे मारी भी कर चुकी है दरअसल दसवां सामान करने के बाद आज (ED) ने उनके ठिकानों पर छापेमारी की झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन कथित लैंड स्कैम से जुड़े लॉन्ड्रिंग के मामले में बुरी तरह से गिरते नजर आ रहे हैं प्रवर्तन निदेशालय (ED) केटीएम ने सोमवार को सोरेन के दिल्ली के शांतिनिकेतन में स्थित घर सहित तीन ठिकानों पर सुबह 7:00 बजे से छापेमारी शुरू की जो देर रात तक चली (ED) की टीम को यहां सोरेन तो नहीं मिले लेकिन जाते वक्त उनकी बीएमडब्ल्यू कर अपने साथ ले गई जिस कर को (ED) मैं जप्त किया हुआ (HR ) हरियाणा नंबर की है। एहतियात बरतते हुए (ED) की टीम ने हेमंत सोरेन को लेकर एयरपोर्ट पर भी अलर्ट भेज दिया है इस बीच या जानकारी भी सामने आई है कि सत्ता पक्ष गठबंधन के विधायकों को अपने बैग और सामान के साथ रांची में एक जगह इकट्ठा होने के लिए कहा गया है कांग्रेस के विधायक और मंत्री मुख्यमंत्री आवास पहुंच रहे। इस बीच बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने हेमंत सोरेन का निशाना साधा है दुबे ने कहा है कि हेमंत सोरेन ने झामुमो और कांग्रेस के साथ सहयोगी विधायकों को सामान और बैग के साथ रांची बुलाया है उन्होंने आगे कहा कि उनकी जानकारी के मुताबिक कल्पना सोरेन को मुख्यमंत्री बनाने का प्रस्ताव आया है मुख्यमंत्री ने सूचना दी है कि (ED) की पूछताछ कि डर से हुए सड़क मार्ग से रांची पहुंचकर अपने अवतरित होने की घोषणा करेंगे।

2 दिन पहले दिल्ली के लिए रवाना हुए थे हेमंत सोरेन:

दरअसल हेमंत सोरेन शनिवार 27 जनवरी की देर रात तक अचानक दिल्ली रवाना हो गए थे उन्होंने एक चार्टर फ्लाइट से उड़ान भरी थी तब बताया गया था कि वह कुछ राजनीतिक मुलाकात करने के लिए दिल्ली गए हैं वहां वह कानूनी सलाह भी लेंगे इससे पहले (ED) ने उन्हें 10वा सामान भेजा था। और 29 जनवरी से 31 जनवरी के बीच पेश होने के लिए कहा था अगर वह (ED) के सामने पेस नहीं होते हैं तो एजेंसी उनके आवास पर जाकर पूछताछ करेगी।

हेमंत सोरेन के आवास पर(ED) ने की थी पूछताछ:

इससे पहले 20 जनवरी को प्रवर्तन निदेशालय भूमि घोटाला मामले में झारखंड के मुख्यमंत्री से पूछताछ करने के लिए रांची पहुंची थी इस महीने की शुरुआत में सूर्य ने केंद्रीय एजेंसी को पत्र लिखकर कहा था कि वह भूमि घोटाला में उनका बयान उनके आधिकारिक आवास पर दर्ज कर सकती है 20 जनवरी को एड ने सोरेन को 13 जनवरी को आठवां सामान जारी कर 16 से 20 जनवरी के बीच मौजूद रहने को कहा था।

हेमंत सोरेन झारखंड के राजनीतिज्ञ है। जो झारखंड के वर्तमान मुख्यमंत्री हैं इससे पहले उन्होंने जुलाई 2013 से दिसंबर 2014 तक झारखंड के मुख्यमंत्री के रूप में भी कार्य किया था वह झारखंड में एक राजनीतिक दल झारखंड मुक्ति मोर्चा के अध्यक्ष भी हैं वह झारखंड विधानसभा में बरहेट निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं।

Leave a Comment