Madhya Pradesh के हरदा में पटाखा फैक्ट्री में लगी आग।

सुबह-सुबह एक दर्दनाक खबर सामने आई मध्य प्रदेश के हरदा में जो पटाखे की फैक्ट्री थी उसमें लगी भीषण आग आग इतनी ज्यादा थी कि वह बुझने का नाम ही नही लें रही थी । हरदा में फैक्ट्री में धमाकेदार आग लगी इस फैक्ट्री में आग लगने से कई लोग जख्मी हो गए हैं। धमाका इतना ज्यादा था कि कई किलोमीटर तक धरती कब गई काफी दूर तक यह आग दिखाई दे रहा था। कई लोग इस भीषण आग में जख्मी हो गए और कई लोगों की मृत्यु भी हो गई। पटाखे फैक्ट्री के आसपास जितने भी घर थे कई घर तो उसे समय जल गए। इस भीषण आग में कई लोगों की मर जाने की खबर सामने आई है लिखने अभी तक सटीक जवाब नहीं मिला है। और कहां जा रहा है कि इस धमाके में कई लोग घायल हो गए हैं।

हरदा पटाखा फैक्ट्री

यह हादसा मध्य प्रदेश में मगरदा रोड के बैरागढ़ रैटा नामक जगह में हुआ है । इस हादसे को लेकर मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव हरदा ब्लास्ट को लेकर बैठक बुलाई है साथ ही मंत्री उदय प्रताप सिंह के साथ वरिष्ठ अधिकारियों को भी साथ में बुलाया गाया है। फैक्ट्री में हादसे की सूचना सुनते ही प्रशासनीय और पुलिस अधिकारी वहां की मोर्चा को संभाले हुए हैं। इस फैक्ट्री में पटाखे इतनी ज्यादा मात्रा में है कि आग बुझाने का नाम ही नहीं ले रही है आज बढ़ती ही जा रही है आग बेकाबू हो गया है। इतनी ज्यादा मात्रा में आगे लगी है कि वहां तक फायर ब्रिगेड तक नहीं पहुंच पा रही है। इतनी ज्यादा मात्रा में लोग घायल हो गए हैं कि एंबुलेंस से लोगों को भारती करके अस्पताल ले जाया जा रहा है लेकिन एंबुलेंस कम पड़ जा रही है। इसमें आग लगने की धमक कई किलोमीटर दूर तक सुनाई पड़ी है। इस फैक्ट्री के आसपास से कई किलोमीटर दूर तक आगे जाली धमाका हुआ कई घर जल गई। इस फैक्ट्री में घायल हुए लोगों की संख्या में बच्चे भी मौजूद हैं और कई महिलाएं भी इसमें से घायल हुए हैं।

यह हादसा जब हुई उस समय उस फैक्ट्री में करीबन 30 कर्मचारी काम कर रहे थे। घायलों और मृतकों में बच्चे और महिलाएं की भी आशंका लगाई गईं हैं। जब यह आग लगी तो कई लोग अंदर फंसे हुए थे तो कई लोग बाउंड्री को के उपर से चढ़ के सब जान बचा रहे थे । और फैक्ट्री के आसपास के बाहरी लोग भी वहां के लोगों की मदद कर रहे थे।

और यह फैक्ट्री राजू अग्रवाल नामक के नाम पर है। मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव जी ने इस घटनाक्रम में कई लोगों की मदद कर रहें हैं। और उन्होने मंत्री प्रताप सिंह और acs अजीत केशरी और डीजी अरविंद कुमार को हेलीकॉप्टर से हरदा जाने का आदेश दिया है। भोपाल और इंदौर के मेडिकल कॉलेज के साथ-साथ ms भोपाल बर्न यूनिट को कहा है। वहा पर अभी तक काफी लोगो की जान बचाई जा चुकी है।

Leave a Comment